महिला सुरक्षा नाम पर बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का नारा सिर्फ विचारों तक सीमित रह गया

मोदी और केजरीवाल सरकारों की अनदेखी के कारण दिल्ली रेप कैपिटल बन गई है जहां महिलाएं असुरक्षित महसूस करती है।

प्रधानमंत्री मोदी का महिला सुरक्षा नाम पर बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का नारा सिर्फ विचारों तक सीमित रह गया है।

2008 में शीला की कांग्रेस सरकार द्वारा बेटियों के उत्थान के लिए शुरु की गई लाडली योजना को केजरीवाल सरकार ने पिछले वर्षों में लगभग खत्म कर दिया है।

Eros Times: नई दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि देश सहित राजधानी दिल्ली में महिला सुरक्षा, नारी सम्मान और लड़कियों का भविष्य गंभीर विषय है जिसके प्रति केन्द्र की मोदी सरकार और दिल्ली की केजरीवाल सरकार पूरी तरह असंवेदनशील है, जिसके कारण 19 महानगरों में महिलाओं तथा  बच्चियों के साथ बलात्कार और यौन उत्पीड़न जैसे अपराध दिन प्रतिदिन बढ़ रहे है और देश में होने वाले अपराधों के 36 प्रतिशत मामले राजधानी में पंजीकृत होने के कारण दिल्ली में प्रतिदिन 5 रेप की घटनाएं बढ़कर 10-15 प्रतिदिन हो गई है, यह आंकड़े नेशनल क्राईम ब्यूरो ने जारी किए, जो दिल्ली को डराने वाले है।  मोदी और केजरीवाल सरकार की अनदेखी के कारण दिल्ली रेप केपिटल के नाम से जानी जाती है जहां महिलाऐं अपने को पूरी तरह असुरक्षित महसूस करती है।


प्रदेश कार्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन को प्रदेश अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार के अलावा आरटीआई सेल चेयरमैन राम निवास शर्मा भी मौजूद थे। संवाददाता सम्मेलन के पश्चात करावल नगर विधानसभा से आम आदमी पार्टी के संदीप मिश्रा ने अपने कार्यकर्ताओं के साथ कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण की।


चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी महिला सुरक्षा और महिला सशक्तिकरण के नाम पर बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का नारा देते है, जो सिर्फ विचारों तक सीमित रह गया है क्योंकि संसद से कुछ कदम दूर राष्ट्र का गौरव हमारी पहलवान बेटियां भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ जंतर मंतर पर धरने बेटी है लेकिन मोदी जी बेटियों की आवाज सुनने की बजाय अपने सांसद को बचाने के लिए महिला पहलवानों के संघर्ष को नजरअंदाज कर रहे है। परंतु केन्द्र सरकार महिला पहलवानों के सवालों से भाग नही सकती, उन्हें देश को जवाब देना होगा।


चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि 2013 में शर्मसार कर देने वाले निर्भया कांड के बाद महिला सुरक्षा का वादा करने वाले मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल का महिला सशक्तिकरण, महिला सुरक्षा और यौन उत्पीड़न के अपराधों पर नियंत्रण करने का दावा सिर्फ भाषणों में ही दिखाई देता है क्योंकि केजरीवाल के पिछले 9 वर्षों के कार्यकाल में महिलाओं और नाबालिग बच्चियों के साथ हुए अपराधों में सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए है। शाहबाद डेयरी में साक्षी हत्याकांड, कंझावला में कार द्वारा लड़की को रौंदना, दिल्ली में नाबालिग के साथ बलात्कार के बाद हत्या सहित पीरागढ़ी, कोंडली, त्रिलोकपुरी संगम विहार, जीटीबी अस्पताल आदि घटनाओं ने दिल्ली को शर्मसार कर दिया है। उन्होंने कहा कि शाहबाद डेयरी में महिला सुरक्षा के मामले को दबाने के लिए साक्षी के परिवार को 10 लाख अनुग्रह राशि देकर मुख्यमंत्री केजरीवाल का महिला विरोधी, नारी विरोधी चेहरा उजागर हो गया है। महिला सुरक्षा को ताक पर रखकर केजरीवाल ने दिल्ली में शराब नीति लागू की जिसमें भ्रष्टाचार के कारण उनके मंत्री जेल में बंद है।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि 2008 में शीला की कांग्रेस सरकार द्वारा बेटियों के उत्थान के लिए शुरु की गई लाडली योजना को केजरीवाल सरकार ने पिछले 9 वर्षों में लगभग खत्म कर दिया है। प्रदेश कांग्रेस की एक आरटीआई के जवाब में यह जानकारी सामने आई कि लाड़ली योजना के अंतर्गत दिल्ली की 1,82,894 बेटियों को मिलने वाला 364 करोड़ रुपया स्टेट बैंक आफ इंडिया में पड़ा है जिसको केजरीवाल सरकार बेटियों को देने पूरी तरह विफल साबित हुई। इसके लिए कौन दोषी है, अधिकारों की लड़ाई लड़ने वाले केजरीवाल को बेटियों को लाड़ली योजना के एक-एक लाख रुपये नही देने पर दिल्ली की जनता को जवाब देना होगा।


चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि 2013 में दिल्ली का बजट 39000 करोड़ था उस वक्त कांग्रेस सरकार ने लाड़ली योजना के लिए 113 करोड़ रुपये आवंटन की गई राशि पूरी बेटियों के लिए खर्च हुई। परंतु आज जब केजरीवाल सरकार का बजट 69000 करोड़ से अधिक है परंतु लाडली का बजट दुगना करने की बजाय घटाकर 100 करोड़ कर दिया है। लाड़ली योजना के बजट में कटौती करके अरविन्द केजरीवाल का गरीब विरोधी, बेटी विरोधी और महिला विरोधी चेहरा उजागर हो गया है। उन्होंने कहा कि लाडली योजना का लाभ लेने के लिए बेटियों के जन्म के बाद होने वाले पंजीकरण में 2008 के मुकाबले 2022 में भारी कमी आई है। 2015 में जहां लाडली के लिए पंजीकरण 21521 का था वहीं 2022 में यह सिमटकर 10,000 रह गया है, जिससे साबित होता है केजरीवाल सरकार ने लाडली योजना को लगभग खत्म ही कर दिया है। उन्होंने कहा कि हम घर-घर जाकर लाडली योजना का प्रचार करेंगे और 364 करोड़ की हकदारों को प्रति बेटी को एक-एक लाख दिलवाऐंगे।


चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि दिल्ली सरकार ने पिछले 9 वर्षों में एक भी वृद्ध पेन्शनधारी को नही जोड़ा है, जिन लोगों को कांग्रेस के समय पेन्शन मिलती थी, उन्ही को मिल रही है। एक भी राशन कार्ड नही बनाया यह केजरीवाल का महिला विरोधी व्यक्तित्व सामने आया है क्योंकि दिल्ली में शीला सरकार ने महिलाओं को राशन कार्ड में मुखिया का दर्जा देकर परिवार का मुखिया बनाया था। 54000 राशन कार्ड आवेदन अभी तक लंबित पड़े है।


आम आदमी पार्टी की करावल नगर विधानसभा की पूरी यूनिट कांग्रेस में शामिल।


दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार ने आज करावल नगर विधानसभा यूनिट के मुखिया, आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता संदीप मिश्रा का कांग्रेस परिवार में स्वागत करते हुए कांग्रेस की सदस्यता दिलाई। उन्होंने कहा कि संदीप मिश्रा व उनके साथी कांग्रेस की विचारधारा, कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन के नेतृत्व और राहुल गांधी के मार्गदर्शन में विश्वास प्रकट करते हुए निष्ठा के साथ कांग्रेस में शामिल हुए हैं। इस अवसर पर विक्रम लोहिया भी मौजूद थे।


कांग्रेस में शामिल होने वालों में संदीप मिश्रा के साथ राष्ट्रीय संगठन निर्माण सदस्य संजय कुमार गुप्ता, वार्ड अध्यक्ष सोनिया विहार अनिल कुमार गुप्ता प्रचारे नसीरुद्दीन मंसूरी क्षेत्रीय अध्यक्ष राहुल देव वलीम जावेद विधानसभा अध्यक्ष कन्हैया प्रसाद अंकित शर्मा फैजल कुरेशी सुमित गुप्ता शामिल थे।


संदीप मिश्रा ने कांग्रेस में शामिल होने के बाद कहा कि हम कांग्रेस की विचारधारा और राहुल गांधी के पदचिन्हों पर चलने को तैयार है और पूरी निष्ठा कर्मठता के साथ कांग्रेस पार्टी को मजबूत बनाने के लिए काम करेंगें। करावल नगर विधानसभा कांग्रेस की होगी। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी ने पिछले 9 वर्षों में कोई काम नही किया है और सिग्नेचर ब्रिज का नाम शीला सिग्नेचर ब्रिज रखा जाना चाहिए।

  • admin

    Related Posts

    अनूपशहर निवासी नफ़ीसा की मददगार बनी सामाजिक संस्था जन कल्याण समिति |

    ErosTimes: अलीगढ़ सामाजिक संस्था जन कल्याण समिति अनूपशहर निवासी नफ़ीसा की बनी मददगार इस अवसर पर संस्था के अध्यक्ष इमरान खान ने बताया कि ये महिला हमारी संस्था के सचिव…

    केंद्रीय खेल मंत्री मनसुख मंडाविया से मिले डीसीसीआई के चेयरमैन राजेश भारद्वाज |

    भारत में जल्द आयोजित होने जा रहा है फिजिकली डिसेबल्ड क्रिकेट विश्व कप, 8 देशों की फिजिकली डिसेबल्ड क्रिकेट टीमें लेंगी भाग | ErosTime: नई दिल्ली। भारत में क्रिकेट का…

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    You Missed

    अनूपशहर निवासी नफ़ीसा की मददगार बनी सामाजिक संस्था जन कल्याण समिति |

    • By admin
    • July 20, 2024
    • 87 views
    अनूपशहर निवासी नफ़ीसा की मददगार बनी सामाजिक संस्था जन कल्याण समिति |

    केंद्रीय खेल मंत्री मनसुख मंडाविया से मिले डीसीसीआई के चेयरमैन राजेश भारद्वाज |

    • By admin
    • July 20, 2024
    • 285 views
    केंद्रीय खेल मंत्री मनसुख मंडाविया से मिले डीसीसीआई के चेयरमैन राजेश भारद्वाज |

    जाह्नवी कपूर हुई हॉस्पिटल में एडमिट, शूटिंग पर नहीं कर पाई फोकस

    • By admin
    • July 19, 2024
    • 40 views
    जाह्नवी कपूर हुई हॉस्पिटल में एडमिट, शूटिंग पर नहीं कर पाई फोकस

    अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन की बढ़ी मुश्किलें, बराक ओबामा ने क्या कहा?

    • By admin
    • July 19, 2024
    • 27 views
    अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन की बढ़ी मुश्किलें, बराक ओबामा ने क्या कहा?

    असम कृषि विश्वविद्यालय और एमिटी विश्वविद्यालय ने आपसी सहयोग की संभावनाओं पर की चर्चा

    • By admin
    • July 19, 2024
    • 35 views
    असम कृषि विश्वविद्यालय और एमिटी विश्वविद्यालय ने आपसी सहयोग की संभावनाओं पर की चर्चा

    डोडा में आतंकियों ने फैलाई दहशत, सेना के 2 जवान घायल

    • By admin
    • July 18, 2024
    • 35 views
    डोडा में आतंकियों ने फैलाई दहशत,  सेना के 2 जवान घायल